बिहारी लड़के का कमाल, पटना से पाकिस्तान 1700 किमी का सफर साईकिल से किया पूरा।

Bihar Desh

बिहार का नाम यूं ही पूरे देश समेत विश्व में प्रसिद्ध नहीं हैं, बल्कि इसके पीछे का कारण बिहारियों का जोश और जुनून हैं जो अपनी कठिन और कड़ी मेहनत से असंभव को भी संभव कर देते हैं। दानापुर पटना के रहने वाले नवनीत गोविंदम उर्फ नक्श जो छात्र हैं, पटना से पाकिस्तान की करीब 17 सौं किलोमीटर का सफर साईकिल से पूरा किया हैं। बताते चलें कि नवनीत गोविंदम उर्फ नक्श ने गुरू नानक देव और दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत से प्रेरणा लेते हुए पटना से पाकिस्तान का सफर साईकिल से पूरा कर घर लौटा।

होटल मैनेजमेंट के थर्ड ईयर के छात्र नवनीत गोविंदम ने अपनी यात्रा सुशांत सिंह राजपूत को समर्पित किया हैं। मालूम हो कि इससे पहले भी नवनीत गोविंदम लद्दाख के खारदुंगला पहाड़ी पर 1900 किलोमीटर की दूरी साईकिल से तय कर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था। वहीं पटना से पाकिस्तान की यात्रा के बारे में नवनीत गोविंदम के अनुसार सफर काफी मुश्किल रहा, लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी।

नवनीत गोविंदम की पटना से पाकिस्तान की यात्रा को लेकर परिवार वाले आशंकित थे, परंतु नवनीत की दृढ़ निश्चय देख यात्रा करने की अनुमति दे दी। पटना से पाकिस्तान की यात्रा के दौरान, पाकिस्तान की स्थिति के समाचार ने परिवार के लोगों को चिंतित कर दिया था। बेटे को सफर के दौरान किसी चीज की तकलीफ़ या दिक्कत ना हों, इसके लिए माता-पिता हमेशा संपर्क में रहें।

नवनीत गोविंदम की पटना से पाकिस्तान की सफर पूरा करने पर माता-पिता ने मिठाई खिलाकर खुशी बयां की। मां के मुताबिक सफर के दौरान अगर किसी दिन बेटे से बात नहीं हो पाती थी तो भय लगने लगता था। लेकिन बेटे के हौंसले को देख उन्हें साइकिलिंग करने से कभी नहीं रोका। और आज बेटे की जीत पर काफी खुशी हो रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.