दरभंगा में बंद बोरी में मिली लाश का खुलासा, पत्नी निकली हत्या की मास्टरमाइंड।

Darbhanga

दरभंगा में गुरुवार की रात लहेरियासराय थाना क्षेत्र के दारूभट्टी चौक के पास बंद बोरी में लाश मिली थी, जिसके बाद सनसनी फैल गया था। सीसीटीवी के आधार पर पत्नी को गिरफ्तार कर पूछताछ किया जा रहा था, लेकिन पत्नी कुछ भी बोल नहीं पा रही थी। लेकिन अब पुलिस ने इसका खुलासा कर दिया हैं। जिसमें पत्नी ने पति को मारने की गुनाह कबूल कर ली हैं।

पूरे मामले की विस्तार से जानकारी देते चले कि दरभंगा के बाकरगंज निवासी अरविंद महतो बेनीपुर कोर्ट में कर्मचारी के पद पर बतौर कार्यरत थे। गुरूवार की रात बोरी में बंद उनकी लाश मिली थी, पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद लाश की शिनाख्त कराई जिसमें अरविंद महतो की बहन और पड़ोसियों ने उनकी पहचान की। वहीं दूसरी ओर सीसीटीवी फुटेज में मृतक अरविंद महतो की पत्नी रात में सड़क पर बोरी घसीटती हुई लाश को ठिकाने लगाती नजर आई थी।

जिसके बाद पुलिस ने अरविंद महतो की पत्नी अनुप्रिया महतो और सास को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही थी। हालांकि बाद में उसकी मां को पुलिस ने छोड़ दिया पुलिस की पूछताछ में पत्नी ने अपना जुर्म-ए-इकबाल कबूल कर लिया हैं। और हत्या करने की प्लानिंग से लेकर लाश ठिकाने लगाने की जो बात बताई हैं, उससे सुन लोगों के होश उड़ गए हैं।

पत्नी के कहे मुताबिक पति की एक रात पहले ही नींद की गोली खिलाकर हत्या कर दी थी। पति की हत्या करने के बाद मायके वाले को अपनी 05 वर्षीय बच्ची को रखने के लिए दे दिया। उसके बाद देर रात पति के शव को बोरा में रखकर सड़क किनारे फेंक दिया, जिससे लोगों को ये समझ में आए कि अरविंद महतो की हत्या कहीं अलग जगह पर कर हत्यारा सड़क किनारे लाश फेंककर चला गया हैं। वहीं उसने ये भी बताया कि हत्या उसने अकेले ही की हैं। मृतक अरविंद महतो की पत्नी अनुप्रिया महतो को न्यायिक हिरासत में भेजा गया हैं। वहीं पुलिस अन्य बिंदुओं पर जांच कर रही हैं। जिससे ये पता चल सके कि इसमें कौन-कौन शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.